ज़िनदगी एक जंग

हर पल ज़िनदगी में तनहाई नज़र आती

हर मोड पर मुझे एक जंग नज़र आती है

साथ चले मेरे ऐसा कोई नज़र नै आता

हर तरफ़ बस अजीब सी खमोशी नज़र आती है

मनज़िल धुंधली धुंधली नज़र आती है

रास्ते मे कैई तूफ़ान नज़र आते है

हर वक़्त मुझे कैई सवाल नज़र आतै है

दिल की गहरायौ मे बवंड़र नज़र आते है

हर वक़्त ज़िनदगी तनहाई नज़र आती है

हर मोड मे मुझे एक जंग नज़र आती है।।।

  1. sonika left a comment on February 21, 2010 at 4:08 PM

    This one is very touching! 🙁

  2. param left a comment on February 22, 2010 at 5:36 AM

    हर मोड मे मूज़े एक जंग नज़र आती है..wah..
    kiski peshkash hai ye..??? khud likhi kya?

  3. Boss, mere website hai, all the things here are written by me only… 🙂

Leave a Comment

Your email address will not be published.

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.